ऋषिकेश में प्राकृतिक चिकित्सा महाधिवेशन 18 सितंबर से

नई दिल्ली, सत्यकेतन समाचार। इस कोरोना महामारी के काल में पंच महाभूत के प्रयोग से शरीर के समस्त रोगों का उपचार करने और प्राकृतिक जीवनशैली अपनाकर रोगमुक्त जीवन जीने की कला का प्रचार प्रसार आज की आवश्यकता है. अखिल भारतीय प्राकृतिक चिकित्सक संघ (इनपा) प्राकृतिक चिकित्सकों का एक मंच है जो गान्धी जी के आदर्शवादी दृष्टिकोण का अनुसरण करते हुए प्राकृतिक चिकित्सकों का मार्गदर्शन करता है और इस सर्वसुलभ चिकित्सा पद्धति को अंतिम जन तक पहुंचाने और एक स्वस्थ भारत के निर्माण करने के लिए प्रयासरत है.

इस काम को गति देने के लिए संघ एक अखिल भारतीय स्तर के महाधिवेशन का आयोजन दिनांक 18,19 व 20 सितम्बर 2021 को लक्ष्मण झूला ऋषिकेश के श्री सच्चा धाम आश्रम , लक्ष्मण झूला , तपोवन , ऋषिकेश, उत्तराखंड में करने जा रहा है जिसका उद्घाटन दिनांक 18 सितम्बर को दोपहर बाद ऋषिकेश की मेयर श्री मति अनिता मामगई के करकमलों द्वारा होगा व सर्वश्री सुबोध उनियाल, कृष्ण कुमार सिंघल, हरकसिंह रावत , रोशन रतूड़ी,माधव अग्रवाल, चंदू यादव, किशन मंडल, मनीष बनवाल , विजय बदुनी, राजू शर्मा, शेलेन्द्र रस्तोगी व सुश्री अनिता रैना व स्वामी रमेश जी ( श्री सच्चा धाम आश्रम ) स्वामी सुनील भगत ( श्री स्वामी नारायण आश्रम )की सम्मेलन में समय समय पर गरिमामयी उपस्थिति रहेगी । इस सम्मेलन में देश के विभिन्न प्रदेशों से प्राकृतिक चिकित्सक भाग ले रहे हैं.

सम्मेलन के दूसरे दिन प्रातः प्राकृतिक चिकित्सा के प्रचार प्रसार के लिए स्वास्थ्य सन्देश यात्रा निकाली जाएगी जो रिषकेश शहर के विभिन्न मार्गों से हो कर गुजरेगी व सम्मेलन स्थल पर सम्पन्न होगी तदुपरांत विभिन्न तकनीकी सत्र होंगे जिनमें प्राकृतिक चिकित्सा के तकनीकि पहलुओं पर चर्चा के साथ वरिष्ठ प्राकृतिक चिकित्सकों और योगाचारियों के वयाख्यान होंगे. 20 सितम्बर को समापन समारोह से पहले प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति से चिकित्सा करने की जानकारी का प्रचार करने के लिए एक उपचार शिविर का आयोजन किया गया है जिसमें विभिन्न प्रदेशों से आये प्रतिनिधियों के अतिरिक्त क्षेत्र के आमजन भी प्राकृतिक चिकित्सा के उपचार का लाभ उठा सकेंगे